Hindi Lekhani

Category : अनुदित गज़ल

ग़ज़ल

SMC Web Solution
ग़ज़ल मैं हूँ नादान  मुझे  नादान  रहने दो सियासत से दूर  गिरेबान रहने  दो नहीं चाहता कि दाग दामन में लगे मैं हूँ  शायर  यही